scorecardresearch

Facebook, Twitter, Amazon से लेकर Pepsi तक, क्या आप जानते हैं इन मशहूर ब्रांड्स के ओरिजनल नाम?

टिंडर वह ऐप है जिसने डेटिंग को देखने का हमारा नजरिया बदल दिया है. लेकिन क्या आप जानते हैं कि टिंडर का शुरुआती नाम मैचबॉक्स था.

एक जमाने में Google को BackRub कहा जाता था
एक जमाने में Google को BackRub कहा जाता था

Original name of Facebook, Twitter, Amazon and Pepsi: शेक्सपियर ने कहा था कि नाम में क्या रखा है. हालांकि व्यावहारिक नजरिए से देखा जाए तो सब कुछ नाम में ही रखा हुआ है. आपकी पहली पसंद हमेशा सबसे अच्छी नहीं होती है, इसलिए इसमें सुधार की बहुत गुंजाइश होती है. दुनिया भर में कई मशहूर कंपनियां हैं जिनका नाम शुरुआत में कुछ और था लेकिन आज दुनिया उन्हें दूसरे नाम से जानती है. जब आप कुछ प्रतिष्ठित ब्रांडों के मूल नामों को देखते हैं, तो यह स्पष्ट हो जाता है कि रीब्रांडिंग कितनी महत्वपूर्ण है. यहां कुछ बड़े ब्रांड्स की लिस्ट दी जा रही है जिनका नाम शुरूआती दिनों में कुछ और था और आज कुछ और है.

फेसमैश – फेसबुक – मेटा

फेसबुक (Facebook) की शुरुआत साल 2003 में हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में फेसमैश के नाम से हुई थी. मार्क जुकरबर्ग द्वारा हार्वर्ड की कुछ नीतियों का उल्लंघन करने के बाद फेसमैश (Facemash) का नाम बदल दिया गया था और बाद में इसे thefacebook.com के रूप में रजिस्टर्ड किया गया था. फेसमैश का नाम बदलकर The-Facebook करने के बाद कंपनी की ग्रोथ के बारे में बताने की जरूरत नहीं है. हालांकि, साल 2005 में जुकरबर्ग ने ‘द’ को छोड़ने का फैसला किया और फिर अक्टूबर 2021 में भविष्य पर नजर रखते हुए फेसबुक ने अपनी पैरेंट कंपनी का नाम बदलकर मेटा (meta) यानी मेटावर्स कर दिया.

Tata Technologies: कमाई का बेहतरीन मौका, टाटा ग्रुप की कंपनी लाने वाली है IPO, क्‍या है पूरा प्‍लान

मैचबॉक्स – टिंडर

टिंडर (Tinder) वह ऐप है जिसने डेटिंग को देखने का हमारा नजरिया बदल दिया है. लेकिन क्या आप जानते हैं कि टिंडर का शुरुआती नाम मैचबॉक्स (matchbox) था. टिंडर ने नाम बदलने का फैसला इसलिए किया था क्योंकि उसके एक प्रतियोगी का भी यही नाम था. लेकिन जैसे ही टिंडर ने अपना नाम बदला, युवाओं में इसकी लोकप्रियता तेजी से बढ़ी और आज टिंडर दुनिया के सबसे बड़े डेटिंग ऐप्स में से एक है.

बैकरब – गूगल – अल्फाबेट 

क्या आपको पता है कि एक जमाने में Google को BackRub कहा जाता था? शुरुआत में Google एक वेबसाइट के बैकलिंक्स के महत्व का विश्लेषण करता था, इसलिए इसका नाम बैकरब रखा गया था. हालांकि बाद में इन्होने सर्च टेक्नोलॉजी में तेजी से सुधार करने का निर्णय लिया औरऔर अपना नाम बदलने का फैसला किया. शुरू में नाम Google के बजाय Googol रखा जाना था लेकिन डोमेन की उपलब्धता के कारण उन्हें नाम google रखना पड़ा और उसके बाद का समय सिर्फ इतिहास है. अब कंपनी ने इस मूल कंपनी का नाम भी बदलकर अल्फाबेट कर दिया है.

Maruti Suzuki दे रही WagonR, आल्टो और स्विफ्ट पर 65000 तक की छूट, चेक करें सभी डिटेल्स

ओडियो – ट्विटर

ट्विटर की शुरुआत ऑडियो (Odeo) के रूप में तब हुई थी जब यह पॉडकास्ट था न कि माइक्रोब्लॉगिंग वेबसाइट. हालांकि रणनीति बदलने के बाद ऑडियो का नाम बदलकर ट्विटर कर दिया गया है.

रिलेंटलेस – अमेजन

अपने ब्राउजर में relentless.com टाइप करके देखें कि क्या होता है. अगर आपने अभी कोशिश की, तो आपने देखा होगा कि पेज सीधे amazon.com पर रीडायरेक्ट हो गया होगा. शुरुआत में जेफ बेजोस यही नाम रखना चाहते थे, लेकिन डिक्शनरी सर्च करने के दौरान उनकी नजर अमेजन नाम के एक शब्द पर पड़ी. Amazon दुनिया की सबसे बड़ी नदी का नाम है और चूंकि वह दुनिया की सबसे बड़ी किताबों की दुकान (ऑनलाइन) शुरू कर रहे थे, इसलिए यह नाम उनके लिए बिल्कुल उपयुक्त था.

अर्बनक्लैप – अर्बन कंपनी

जब आपकी जरूरत की लगभग हर चीज के लिए घरेलू सेवाएं प्रदान करने की बात आती है तो दिमाग में सबसे पहला नाम अर्बनक्लैप का ही आता है. छह नए उप-ब्रांड लॉन्च करने और विश्व स्तर पर स्वीकृत ब्रांड बनने के लिए उन्होंने 2020 में नाम बदलकर अर्बन कंपनी करने का फैसला किया.

ब्रैड ड्रिंक – पेप्सी

क्या आप जानते हैं कि पेप्सी को शुरू में इसके निर्माता – कालेब डी. ब्रैडम के नाम के आधार पर ब्रैड ड्रिंक कहा जाता था.  उन्होंने अपने उत्तरी कैरोलिना दवा की दुकान में इस ड्रिंक को तैयार किया था. हालांकि जैसे ही उन्हें एहसास हुआ कि नाम का असर उतना नहीं हो पा रहा है इसलिए पांच साल बाद उन्होंने पेय को पेप्सी-कोला के रूप में रीब्रांड किया और दुनिया भर में पेप्सी मशहूर है.

Written by Eshita Bhargava

First published on: 10-03-2023 at 12:49 IST

TRENDING NOW

Business News